A Smart Gateway to India…You’ll love it!

WelcomeNRI.com is being viewed in 124 Countries as of NOW.

गूगल ने 5 साल बाद एप्पल को पछाड़ा, एल्फाबेट दुनिया की सबसे वैल्यूएबल कंपनी

गूगल ने 5 साल बाद एप्पल को पछाड़ा, एल्फाबेट दुनिया की सबसे वैल्यूएबल कंपनी

नई दिल्ली गूगल की पेरेंट कंपनी एल्फाबेट ने मार्केट कैप के लिहाज से एप्पल को पीछे छोड़ दिया है। सोमवार को क्वॉर्टर रिजल्ट्स के बाद एल्फाबेट का मार्केट कैप करीब 40 लाख करोड़ रुपए हो गया है। जो कि एप्पल से करीब ढ़ाई लाख करोड़ रुपए ज्यादा है। इससे पहले फरवरी 2010 में भी एप्पल को पीछे छोड़ा था।

एल्फाबेट का मार्केट कैप 4 लाख करोड़ के पार...

- सोमवार को एल्फाबेट का मार्केट कैप करीब 57 हजार करोड़ डॉलर (करीब 38.1 लाख करोड़ रुपए) हो गया है।

- सोमवार को एप्पल का मार्केट का कैप 53 हजार 500 करोड़ डॉलर (35.8 लाख करोड़ रुपए) रहा है।

कंपनी का शेयर 7.4 फीसदी तक चढ़ा

- अक्टूबर-दिसंबर तिमाही नतीजों के बाद कंपनी के शेयर में जोरदार उछाल देखने को मिला है। कंपनी का शेयर 7.41 फीसदी की तेजी के सथ 770 डॉलर के भाव पर बंद हुआ है।

- पिछले एक साल में (2 फरवरी 2015 से 2 फरवरी 2016) कंपनी का शेयर 43 फीसदी चढ़ चुका है।

एल्फाबेट का मुनाफा 30 फीसदी बढ़ा

- गूगल की रीस्ट्रक्चरिंग के बाद पहली बार एल्फाबेट ने अपने क्वॉर्टर रिजल्ट्स का ऐलान किया है।

- कंपनी का मुनाफा 30 फीसदी बढ़कर 604 करोड़ डॉलर (40 हजार 468 करोड़ रुपए) हो गया है।

- जबकि पिछले साल की समान अवधि में 465 करोड़ डॉलर (31 हजार 155 करोड़ रुपए) का मुनाफा हुआ था।

कंपनी की आय 17.8 % बढ़ी

- कंपनी की चौथी तिमाही (फोर्थ क्वॉर्टर) में टोटल इनकम 1810 करोड़ डॉलर (1 लाख 21 करोड़ रुपए) से बढ़कर 2133 करोड़ डॉलर (1 लाख 42 हजार करोड़ रुपए) हो गई है।

पिछले साल अगस्त में गूगल ने की थी रीस्ट्रक्चरिंग

- गूगल ने अगस्त 2015 में अपनी रीस्ट्रक्चरिंग करते हुए अल्फाबेट नाम से पेरेंट कंपनी बनाई थी।

क्या हुआ इसका फायदा

- इस फैसले के बाद गूगल का कोर बिजनेस अलग हो गया। नए गूगल में सर्च, एड, मैप, एप, यूट्यूब और एंड्रॉयड का काम है।

- वहीं, अल्फाबेट में कैलिको, नेस्ट, फाइबर समेत गूगल वेंचर और गूगल कैपिटल का कारोबार होता है।

फेसबुक बन सकती है तीसरी बड़ी कंपनी

- अभी माइक्रोसॉफ्ट तीसरी बड़ी कंपनी है। लेकिन तेजी से बढ़ती फेसबुक उसके लिए खतरा बन सकती है।

- दिसंबर तिमाही में फेसबुक का रेवेन्यू 52% बढ़ा लेकिन माइक्रोसॉफ्ट का 10% कम हुआ है।

आईफोन की सुस्त बिक्री से घटी ग्रोथ

- एक्सपर्ट्स की मानें तो स्टीव जॉब्स की मौत के बाद एपल में इनोवेशन कम हो गया है।

- अप्रैल 2015 में लॉन्च एपल वॉच को ज्यादा खरीदार नहीं मिले।

- सितंबर 2015 में लॉन्च आईफोन-6 की बिक्री अच्छी नहीं रही।

- दिसंबर तिमाही के नतीजों के साथ कंपनी ने खुद कहा कि जनवरी-मार्च में आईफोन की बिक्री पिछले साल से कम रहेगी।

डिजिटल एड में गूगल का दबदबा

- इसके उलट डिजिटल एडवरटाइजिंग का बाजार बढ़ रहा है।

- इंटरनेट सर्च और डिजिटल एड में गूगल का दबदबा बरकरार है।

- यह वीडियो, मोबाइल, मैपिंग जैसे एरियाज में भी तेजी से बढ़ रही है।

-इससे अल्फाबेट का रेवेन्यू 15 से 20% की रफ्तार से बढ़ने की उम्मीद है। कंपनी की रिस्ट्रक्चरिंग को भी निवेशकों ने सराहा है।

टॉप-10 कंपनियां

सीरियल नं. कंपनी मार्केट कैप
1. गूगल (अल्फाबेट) 40
2. एपल 35.8
3. माइक्रोसॉफ्ट 29
4. एक्सॉनमोबिल 21.9
5. बर्कशायर हैथवे 21.7
6. फेसबुक 21.6
7. जनरल इलेक्ट्रिक 19.9
8. जॉन्सन 19.6
9. वेल्स फार्गो 17.3
10 चाइनामोबाइल 15.2

(मार्केट कैप लाख करोड़ रुपए में)

गूगल ने 5 साल बाद एप्पल को पछाड़ा, एल्फाबेट दुनिया की सबसे वैल्यूएबल कंपनी

अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें.

For latest news and analysis in English, follow Welcomenri.com on Facebook.

A Smart Gateway to India…You’ll love it!

Recommend This Website To Your Friend

Your Name:  
Friend Name:  
Your Email ID:  
Friend Email ID:  
Your Message(Optional):