A Smart Gateway to India…You’ll love it!
WelcomeNRI.com is being viewed in 121 Countries as of NOW.
A Smart Gateway to India…You’ll love it!

जानिए क्या है भारत 22 ईटीएफ, इन 22 कंपनियों के शेयर की सरकार ने की घोषणा | What is Bharat 22 ETF, Complete Detail


क्या है भारत चीन डोकाला सीमा विवाद, जानिए…

bharat 22 etf hindi

भारत 22 एक नया एक्सचेंज ट्रेडेड फंड (ईटीएफ) है जिसका उद्घाटन 4 अगस्त 2017 को भारत के तत्कालीन केन्द्रीय वित्त मंत्री श्री अरुण जेटली ने किया। ‘भारत 22’ में केन्द्रीय सार्वजनिक क्षेत्र उपक्रमों (सीपीएसई), सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के 22 शेयर शामिल हैं। पोर्टफोलियो विविधता से भरे इस ईटीएफ में छह सेक्टर (बुनियादी सामग्री, ऊर्जा, वित्त, एफएमसीजी, औद्योगिक इकाइयां एवं उपयोगिता उपक्रम) शामिल हैं। …

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने निवेश प्रक्रिया को आगे बढ़ाने के लिए 4 अगस्त 2017 को दुसरे भारत 22 एक्सचेंज ट्रेड फण्ड की घोषणा की है, जो कई तरह के पोर्टफोलियो के साथ सामने आया है. सरकार का ये कदम विनिवेश को आगे बढ़ाने और टारगेट को पूरा करने के लिए है. सरकार का टारगेट 72,500 तक का है, जो 2017-18 तक के लिए तय किया गया है, और भारत 22 के साथ पूरा किया जा सकेगा।

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने की ETF ‘भारत 2022’ की घोषणा | Bharat 2022 ETF in Hindi

वित्तमंत्री अरुण जेटली ने अपने बजट भाषण 2017-18 में यह वादा किया था कि शेयरों का और ज्यादा विनिवेश करने के लिए ईटीएफ का उपयोग एक साधन के रूप में किया जाएगा। ईटीएफ के अंतर्गत 22 ब्लू चिप कंपनीयां है, जिसमें सेंट्रल पब्लिक सेक्टर एंटरप्राइज (सीपीएसई), पब्लिक सेक्टर बैंक (पीएसबी) साथ ही SUUTI भी होगा. कहा जा रहा है स्टॉक मार्केट में भारत की बड़ी सफलता साबित होगी, इसमें निवेशक दूसरों के मुकाबले 15% अतिरिक्त फायदा पायेंगें।

वित्तीय क्षेत्र की कंपनियों में भारतीय स्टेट बैंक और एक्सिस बैंक आदि बैंको के शेयरों को भी शामिल किया गया है। जिसमें सरकार की हिस्सेदारी भी होगी। इसके साथ ही इसमें एफएमसीजी कंपनी आईटीसी आदि कंपनियों को भी शामिल किया गया है।

इसके आगे वित्त मंत्री जेटली ने यह भी बताया है कि सरकार ने पिछले वित्त वर्ष में सीपीएसई ईटीएफ रूट के माध्यम से करीब 8,500 करोड़ रुपये जुटाए थे और इस साल सरकार का यह उद्देश्य करीब 72,500 करोड़ रुपये जुटाने का है।

एक्सचेंज ट्रेड फण्ड (ईटीएफ) क्या है (What is ETF)

ईटीएफ शेयर्स का सेट होता है, जो म्यूच्यूअल फण्ड से अलग होता है. यह एक मार्किट सिक्युरिटी है, जो इंटेक्स, बांड्स को ट्रैक करती है. म्यूच्यूअल फण्ड की अपेक्षा ये स्टॉक एक्सचेंज में कॉमन स्टॉक है. ईटीएफ हर समय क्या ख़रीदा और बेचा गया उसको जांचता रहता है, और यह म्युचुअल फंड के विपरीत ईटीएफ में साधारणतया ज्यादा है।

पहले ईटीएफ से अलग

सरकार का पुराने ईटीएफ में केवल 10 सरकारी कंपनियां थी, लेकिन नए ईटीएफ में सरकारी कंपनियों के साथ-साथ सरकारी बैंक और एक निजी कंपनी, एल एंड टी और एक निजी बैंक एक्सिस बैंक को शामिल किया गया है।

एल एंड टी और एक्सिस बैंक में सरकार की सूटी के जरिए हिस्सेदारी है. सूटी, यूटीआई के बंटवारे के बाद बनायी गयी और इसमें सरकार की ओर से यूटीआई द्वारा खरीदी गयी विभिन्न कंपनियों में हिस्सेदारी डाल दी गयी

पहले वाले ईटीएफ में जहां ऊर्जा क्षेत्र की कंपनियों का बोलबाला था, वहीं प्रस्तावित ईटीएफ में छह क्षेत्रों, बेसिक मेटेरियल्स, एनर्जी, फाइनेंस, एफएमसीजी, इंडस्ट्रियल औऱ यूटिलिटीज से जुड़ी कंपनियों को शामिल किया गया है. पहली बार यहां बैंकों को जगह मिली है. सरकार को उम्मीद है कि अलग-अलग क्षेत्रों में हो रहे सुधारों का असर उससे जुड़ी कंपनियों के शेयरों पर पड़ेगा और अंत में इसका फायदा ईटीएफ को मिलेगा।

पहले ईटीएफ से अलग

जैसा की सन 2014 में सरकार ने पहले ईटीएफ के लांच के समय 3000 करोड़ बढ़ाये थे. इसके साथ ही साल 2017 में 2 फॉलो ओन ऑफर के साथ अब तक ईटीएफ में 8500 करोड़ बढ़ाये जा चुके है. अब ये देखना होगा की भारत 22 किस तरह पुराने ईटीएफ से अलग है।

ईटीएफ ज्यादा कामयाब हो सकता है क्योंकि इसमें कंपनियां ज्यादा है और इसमें अलग अलग कई सेक्टर शामिल किए गए हैं। वहीं सीपीएसई ईटीएफ में सिर्फ सरकारी कंपनियां शामिल थीं, नए ईटीएफ में ऐसे प्राइवेट ब्लू चिप भी हैं जिसमें SUUTI की होल्डिंग है।

  • निवेश सचिव सचिन कुमार का कहना है कि नए फण्ड में विविधता होगी, और माना जा रहा है कि ये पहले के ईटीएफ से अच्छा परफॉर्म करेगा.
  • जेटली जी ने कहा है कि ईटीएफ पोर्टफोलियो के अंतर्गत 6 सेक्टर है, जिसमें बुनियादी सामग्री, ऊर्जा, वित्त, एफएमसीजी, साथ ही औद्योगिक और उपयोगी उद्योग भी है. इसमें 20 प्रतिशत की एक क्षेत्रीय कैपिंग और 15 प्रतिशत की एक ही कंपनी की स्टॉक कैपिंग होगी.
  • इसके अलावा जेटली जी ने ये भी कहा है कि भारत 22 में 4 बैंकिंग स्टोक शामिल है – स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया, एक्सिस बैंक, बैंक ऑफ़ बरोदा, इंडियन बैंक. इसमें ONGC, IOC, NALCO एवं कोल इंडिया को शामिल नहीं किया गया है. नब्बे प्रतिशत इक्विटी इसमें शामिल है, जो भविष्य में ट्रेड करेगी.
  • वित्त मंत्री ने ये भी कहा है कि ICICI प्रूडेंशियल इसके फण्ड को देखेगा. सीपीएसई ईटीएफ का प्रबंधन रिलायंस निप्पॉन लाइफ द्वारा किया जाता है.

भारत 22 में शामिल होने वाले शेयरों की सूची है..

  1. ITC लिमिटेड – 15.2%
  2. स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया – 6%
  3. पॉवर ग्रिड कोप – 9%
  4. एक्सिस बैंक – 7.7%
  5. NTCP – 6.7%
  6. ONGC – 5.3%
  7. इंडियन आयल कोर्प – 4.4%
  8. भारत पेट्रोलियम कोर्प – 4.4%
  9. NALCO – 4.4%
  10. कोल इंडिया – 3.3%
  11. भारत इलेक्ट्रॉनिक- 3.3%
  12. इंजिनियर्स इंडिया लिमिटेड - 1.5%
  13. बैंक ऑफ़ बरोदरा - 1.4%
  14. रूलर इलेक्ट्रीशियन कोर्प – 1.3%
  15. NHPC – 1.2%
  16. पॉवर फाइनेंस कोर्प – 1%
  17. NBCC – 0.6%
  18. NLC इंडिया लिमिटेड- 0.3%
  19. इंडियन बैंक- 0.2%
  20. SJVN – 0.2%

क्या है एक्सपर्ट्स की राय

सीपीएसई ईटीएफ को मिले मजबूत रिस्पॉन्स की वजह से ही सरकार भारत 22 इंडेक्स ला रही है। पिछली ईटीएफ की सफलता से संकेत है भारत 22 की मदद से सरकार को रकम जुटाने में काफी मदद मिलेगी। वहीं इस इंडेक्स में शामिल कई कंपनियां काफी मजबूत हैं, और बेहतर परफॉर्म कर रही है। ऐसे में लंबी अवधि के दौरान निवेशकों को भी अच्छा रिटर्न मिलेगा।

एक्सिस बैंक - रिलायंस सिक्युरिटीज ने एक्सिस बैंक में 600 रुपए के लक्ष्य के साथ निवेश की सलाह दी है। ब्रोकरेज हाउस ने स्टॉक के लिए रेटिंग होल्ड से बढ़ाकर खरीद की है। ब्रोकिंग फर्म के मुताबिक बैंक की एसेट क्वालिटी सुधर रही है। वहीं लोन ग्रोथ के अनुमान में भी बढ़त का अनुमान है। वहीं ब्रोकिंग फर्म ने बैंक के प्रॉफिट के अनुमान भी बढ़ा दिए हैं।

पिछले पांच सालो में ईटीएफ में निवेश की कीमत (AUM or Assets Under Management) लगातार बढ़ी है. मार्च 2014 के अंत में जहां ईटीएफ में निवेश की कीमत 11403 करोड़ रुपये थी, वो जून 2017 में करीब 54 हजार करोड़ रुपये हो गयी। जय हिंद।

कृपया इस पोस्ट को देशहित में शेयर जरूर करें !!

तो दोस्तो अगर आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो इस Facebook पर Share अवश्य करें! अब आप हमें Facebook पर Follow कर सकते है !  क्रपया कमेंट के माध्यम से बताऐं के ये पोस्ट आपको कैसी लगी आपके सुझावों का भी स्वागत रहेगा Thanks !

Good luck

Loading...
A Smart Gateway to India…You’ll love it!

Recommend This Website To Your Friend

Your Name:  
Friend Name:  
Your Email ID:  
Friend Email ID:  
Your Message(Optional):