A Smart Gateway to India…You’ll love it!
WelcomeNRI.com is being viewed in 121 Countries as of NOW.
A Smart Gateway to India…You’ll love it!

जानिए भारत के प्रमुख व्रत, पर्व और त्यौहार के बारे में | Festivals of India Complete Detail in Hindi


क्या है भारत चीन डोकाला सीमा विवाद, जानिए…

festivals of india in hindi

भारत त्यौहारों का देश है। देशभर में रचे-बसे अलग-अलग वर्गों के लोग हर त्यौहार को उल्लास के साथ मनाते हैं। त्यौहार हर एक देश में मनाये जाते हैं, लेकिन भारत देश में त्यौहारों का अपना ही अलग अंदाज हैं। पारिवारिक प्रेम, आपसी भाई चारा एवं सामाजिक व्यवस्था आदि ही त्यौहारों के मुख्य बिंदु हैं। …

हिन्दू संस्कृति में हर एक दिन की अपनी एक विशेषता होती हैं, जिससे जुड़ी मान्यताओ के आधार पर सांस्कृतिक त्यौहार मनाये जाते हैं। हिंदी पंचांग की व्यवस्था सामाजिक परिपेक्ष से नही बल्कि प्राकृतिक परिपेक्ष के आधार पर की गई हैं, ऋतुओ के बदलने के साथ-साथ त्यौहारों का आगमन होता हैं और वातावरण के अनुकूल ही उस त्यौहार के नियम होते हैं।

भारतीय त्योहार - हिन्दू, मुस्लिम, सिक्ख, ईसाई, जैन, बुध्धिष्ठ पर्व | List of Indian Festivals in Hindi

पूरी दुनिया में भारत को पारंपरिक और सांस्कृतिक उत्सव के देश के रुप में अच्छी तरह से जाना जाता है क्योंकि ये बहुधर्मी और बहुसंस्कृति का देश है। भारत में कोई भी हर महीने उत्सवों का आनन्द ले सकता है। यह एक धर्म, भाषा, संस्कृति और जाति में विविधताओं से भरा धर्मनिरपेक्ष देश है, ये हमेशा मेलों और त्योहारों के उत्सवों में लोगों से भरा रहता है। हर धर्म से जुड़े लोगों के अपने खुद के सांस्कृतिक और पारंपरिक त्योहार है।

भारत एक ऐसा देश है जो विविधता में एकता का उदाहरण है क्योंकि यहाँ हिन्दू, मुस्लिम, सिक्ख, ईसाई तथा जैन आदि धर्म एक साथ निवास करते हैं। कुछ त्योहारों को राष्ट्रीय स्तर पर मनाया जाता है जबकि कुछ क्षेत्रीय स्तर पर मनाये जाते हैं। पद्धति और धर्म के अनुसार उत्सवों को अलग-अलग वर्गों में वर्गीकृत किया गया है।

हिन्दू त्यौहार (Hindu Festivals)

पूरी दुनिया में हिन्दू धर्म के लोगों द्वारा ढ़ेर सारे सांस्कृतिक और पारंपरिक उत्सव मनाये जाते हैं। हिन्दू धर्म को पूरे विश्व के सबसे प्राचीन संगठित धर्म के रुप में माना जाता है साथ ही साथ इसे दुनिया के तीसरे सबसे बड़े धर्म के रुप में भी गिना जाता है। हर हिन्दू त्योहार को मनाने की अपनी खास पद्धति है। बिना किसी जाति, उम्र, और लिंग की परवाह किये हिन्दू धर्म के सभी लोग अपना त्योहार मिल-जुलकर मनाते हैं।

हिन्दू त्योहारों की तारीख को हिन्दू कैलेंडर की तारीखों के अनुसार तय किया जाता है, ऐतिहासिक पौराणिक कथाओं के रुप में कुछ हिन्दू पर्वों को मनाया जाता है, कुछ मौसम के बदलने पर और कुछ पर्यावरण को स्वच्छ रखने के लिए।

नीचे सभी हिन्दू पर्वों की सूची दी गई है:

हिन्दू त्यौहार तारीख-2017
लोहड़ी 13 जनवरी, शुक्रवार
मकर संक्रांति 14 जनवरी, शनिवार
पोंगल 15 जनवरी, रविवार
वसंत पंचमी 1 फरवरी, बुधवार
थाईपुसम 9 फरवरी, गुरुवार
महाशिवरात्रि 25 फरवरी, शनिवार
होलिका दहन 12 मार्च, रविवार
होली 13 मार्च, सोमवार
चैत्र नवरात्रि 28 मार्च मंगलवार से 5 अप्रैल तक बुधवार
ऊगड़ी/तेलुगू नया साल 28 मार्च मंगलवार
गंगौर पर्व 30 मार्च गुरुवार
मेवाड़ पर्व 29 मार्च बुधवार से 31 मार्च शुक्रवार
राम नवमी 5 अप्रैल बुधवार
महावीर जयंती 9 अप्रैल रविवार
हनुमान जयंती 11 अप्रैल मंगलवार
रथयात्रा 25 जून रविवार
गुरु पूर्णिमा 9 जुलाई रविवार
ओनम 4 सितंबर सोमवार
रक्षा बंधन 7 अगस्त सोमवार
कुंभ मेला 29 अगस्त मंगलवार से 18 सितंबर सोमवार
जन्माष्टमी 14 अगस्त सोमवार
रामलीला 8 सितंबर शुक्रवार से 8 अक्टूबर रविवार तक
गणेश चतुर्थी 25 अगस्त शुक्रवार
ब्रह्मोत्सव 22 सितंबर शुक्रवार से 1 अक्टूबर रविवार
पितृ पक्ष 5 सितंबर मंगलवार से 19 सितंबर मंगलवार
रामबारात 8 अक्टूबर रविवार
नवरात्र 21 सितंबर गुरुवार से 30 सितंबर शनिवार तक
दशहरा 30 सितंबर शनिवार
महाऋषि वाल्मिकी जयंती 5 अक्टूबर गुरुवार
करवा चौथ 8 अक्टूबर रविवार
देव उथानी एकादशी 31 अक्टूबर मंगलवार
धनतेरस 17 अक्टूबर मंगलवार
दिवाली 19 अक्टूबर गुरुवार
गोवर्धन पूजा 20 अक्टूबर शुक्रवार
भाई दूज 21 अक्टूबर शनिवार
छठ पूजा 24 अक्टूबर मंगलवार - 27 अक्टूबर शुक्रवार

मुस्लिम त्यौहार (Muslim Festivals)

पूरे विश्व में अपने सभी इस्लामिक पर्वों को मुस्लिम धर्म के सभी लोग पूरे उत्साह के साथ मनाते हैं। इनके कई सारे धार्मिक पर्व है जो वो अपने इस्लामिक कैलेंडर के अनुसार पूरे जुनून और समर्पण के साथ मनाते हैं। कुछ महत्वपूर्ण इस्लामिक पर्व रमजान (रामादान), ईद-ए-मिलाद, मुहर्रम, बकरीद आदि हैं जिसे वो खास तरीके से मस्जिदों में दुआ माँग कर, दावत देकर और एक-दूसरे को बधाई देकर मनाते हैं।

नीचे सभी मुस्लिम पर्वों की सूची दी गई है:

मुस्लिम त्यौहार तारीख-2017
बारावफात 11 दिसंबर, सोमवार
मिलाद-उन-नबी 2 दिसंबर, शनिवार
ज़ियारवाहिन शरीफ 22 जनवरी, रविवार
हज़रत अली का जन्मदिन 11 अप्रैल, मंगलवार
शब-ए-मिराज़ 24 अप्रैल, सोमवार
शब-ए-बारात 5 मई, शुक्रवार
जमात-उल-विदा 23 जून, शुक्रवार
ईद-उल-फितर (रमजान ईद) 26 जून, सोमवार
ईद-उल-जुहा (बकरीद या ईद-उल-अदा) 2 सितंबर, शनिवार
मुहर्रम 20 सितंबर (बुधवार शाम) से 20 अक्टूबर तक (शुक्रवार की शाम)

सिक्ख त्यौहार (Sikh Festivals)

सिक्ख धर्म के लोगों के पास बहुत सारे अलग-अलग रीति-रिवाज के उत्सव होते हैं, जिन्हें वो पूरी दिलेरी और मस्ती के साथ मनाते हैं। वो अपने दस सिक्ख गुरुओं के जीवन और उनकी दी गयी सीखों (पाठों) को याद करते हैं। कुछ हिन्दू त्योहारों को अलग कारणों की वजह से सिक्खों द्वारा मनाया जाता है। अपने उत्सव को मनाने के दौरान गुरुबानी गाना, पवित्र गीत, पवित्र किताबों को पढ़ना और धार्मिक गीत-संगीत करते हैं।

नीचे सभी सिक्ख पर्वों की सूची दी गई है:

सिक्ख पर्व तारीख-2017
गुरुगोविन्द सिंह जयंती 5 जनवरी, गुरुवार
लोहरी 13 जनवरी, शुक्रवार
होल्ला मोहल्ला 13 मार्च, सोमवार से 15 मार्च बुधवार तक
सोदल मेला 27 सितंबर, बुधवार
गुरुरामदास जी जयंती 9 अक्टूबर, सोमवार
गुरुनानक जयंती 4 नवंबर, शनिवार
गुरु पूरब 4 नवंबर, शनिवार
गुरुग्रंथ साहिब की स्थापना

जैन पर्व (Jain Parv)

जैन धर्म के लोग बहुत सारे रीति-रिवाज़ और धार्मिक रस्मों को त्योहार के रुप में मनाते हैं। इनके रीति-रिवाज़ विभिन्न तरीकों में मूर्ति पूजा से संबंधित है और त्योहार तीर्थांकरों की जीवन की घटनाओं से संबंधित है जो आत्मा की शुद्धि में शामिल थे। इनके रीति-रिवाज़ दो भागों में विभाजित होते हैं कार्या और क्रिया।

जैन श्वेताम्बर के अनुसार छ: अनिवार्य कर्तव्य होते हैं जिन्हें आवश्यकाश् कहते हैं जो कि “चतुर्विशंती-स्तव: तीर्थांकरों की तारीफ करना, कयोत्सरगा: ध्यान, प्रतिक्रमण: पिछले बुरे कामों का प्रायश्चित करना, प्रत्याख्यना: किसा भी चीज का त्याग करना, समयीका: शांति और ध्यान, वंदन: गुरुजनों का आदर करना आत्मसंयमी बनना”।

जैन दिगम्बर के अनुसार छ: कर्तव्य है जो “दाना: दान, देवपूजा: तीर्थांकरों की पूजा करना, गुरु उपस्थी: गुरुजनों का आदर करना आत्मसंयमी बनना, संयम: विभिन्न नियमों से खुद पर काबू रखना, स्वाध्याय: धार्मिक ग्रंथों को पढ़ना, तापा: तपस्या” जोकि जैनों की मूलभूत रीति-रिवाज़ है।

नीचे सभी जैन पर्वों की सूची दी गई है:

जैन पर्व तारीख-2017
दीप दीवाली  3 नवंबर, शुक्रवार
महामस्तक अभिषेक
महावीर जयंती 9 अप्रैल, रविवार
परयूशन 18 अगस्त, शुक्रवार

ईसाई पर्व (Christian Parv)

ईसाई धर्म के लोग क्रिसमस, ईस्टर, गुड फ्राई-डे जैसे आदि त्योहार मजे से भरपूर क्रियाओं और बहुत उत्साह के साथ मनाते हैं। दूसरे धर्म के लोग भी क्रिसमस मनाते हैं जो भारत में विविधता में एकता की निशानी है।

भारत में बहुत सारी प्रसिद्ध जगह हैं जहाँ पर ईसाई त्योहारों को मनाया जाता है जैसे गोवा जहाँ सबसे पुरानी और सुंदर चर्च मौजूद है। वो दावत देते हैं, प्रार्थना करते हैं और उनके उत्सव मनाने के दौरान जुलूस निकाला जाता है।

नीचे सभी ईसाई पर्वों की सूची दी गई है:

ईसाई पर्व तारीख-2017
गुड फ्राइडे 14 अप्रैल, शुक्रवार
ईस्टर 16 अप्रैल, रविवार
क्रिसमस 25 दिसंबर, सोमवार

बौद्ध पर्व (Bodh Parv)

बौद्ध धर्म के लोग अपने भगवान बुद्ध और बोधिसत्व से अच्छी तरह जुड़ कर मनाते हैं। ऐसा माना जाता है कि बौद्ध समारोह पहली बार भगवान बुद्ध के द्वारा शुरु किया गया था और उन्होंने अपने भक्तों को ये सलाह दी कि अपने बंधन को मजबूत करने के लिए एक-दूसरे के संपर्क में रहें। ऐतिहासिक त्योंहार को मनाने के लिए इनके अपने रीति-रिवाज़ और विश्वास होते हैं। ये अपने पर्व को मनाने के लिए ऐतिहासिक वस्तुओं की पूजा करते हैं।

इनका उत्सव ज्यादा धार्मिक, आध्यात्मिक और बौद्धिक बन जाता है जो किसी समुदाय की सेवा करने के लिए बाध्य नहीं है।

नीचे सभी बुद्धिष्ठ पर्वों की सूची दी गई है:

बुद्धिष्ठ पर्व तारीख-2017
लोसर 27 फरवरी, सोमवार
बुद्ध पूर्णिमा 10 मई, बुधवार
हेमिस गोमपा 3 जुलाई सोमवार- 4 जुलाई मंगलवार
उलामबना 5 सितंबर, मंगलवार

भारत में कई अन्य त्यौहार भी मनाये जाते हैं, जिनसे लोग एक दूसरे के करीब आते हैं। ये त्यौहार हमारे देश के गौरव हैं और हमारी एकता को बनाये रखते हैं। भारत देश की पहचान हैं उसके अनेक धर्मो का एक सुन्दर स्वरूप, प्रेम, एकता, आपसी भाई चारा ही त्यौहारो का मुख्य उद्देश्य हैं, सामाजिक व्यवस्था की दृष्टि से भी त्यौहार बहुत महत्वपूर्ण हैं। जय हिंद।

तो दोस्तो अगर आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो इस Facebook पर Share अवश्य करें! अब आप हमें Facebook पर Follow कर सकते है !  क्रपया कमेंट के माध्यम से बताऐं के ये पोस्ट आपको कैसी लगी आपके सुझावों का भी स्वागत रहेगा Thanks !

Good luck

Loading...
A Smart Gateway to India…You’ll love it!

Recommend This Website To Your Friend

Your Name:  
Friend Name:  
Your Email ID:  
Friend Email ID:  
Your Message(Optional):