A Smart Gateway to India…You’ll love it!
WelcomeNRI.com is being viewed in 124 Countries as of NOW.

WelcomeNRI.com is being viewed in 124 Countries as of NOW.
« Home   वास्तु शास्त्र टिप्स | Special Vaastu Shastra Tips For Your Home in Hindi.

वास्तु शास्त्र क्या हैं? | What is Vastu Shastra? | वास्तु शास्त्र का परिचय | Vastu for Home.

आदि काल से हिंदू धर्म ग्रंथों में चुबंकीय प्रवाहों, दिशाओं, वायु प्रभाव, गुरुत्वाकर्षण के नियमों को ध्यान में रखते हुए वास्तु शास्त्र की रचना की गयी तथा यह... Read More

वास्तु शास्त्र: पांच तत्वों का विवेचन | Interpretation of the Five Elements of vastu shastra.

आसमान एक मौलिक तत्व है जिससे ‘शब्द‘ की प्राप्ति होती है। आकाश में शून्य होने के कारण तथा पर्यावरण और हवा के माध्यम से (शब्द से) ध्वनि ... Read More

वास्तु के अनुसार भूमि का चयन | Selection of the Land a/c to Vastu.

यदि भूमि पर यज्ञीय वृक्ष, सुगंधित वृक्ष चरण इत्यादि हो, तो वह भूमि ब्राह्मणों के लिए श्रेष्ठ, यदि भूमि पर कांटेदार वृक्ष हो, तो क्षत्रियों के लिए श्रेष्ठ, यदि भूमि पर चूहों इत्यादि के बिल हो, धान्य बिखरा हुआ हो, फलदार... Read More

भूमि की विविध परीक्षाएं एवं खात परीक्षण | Land / plot and building test Vastu Tips for Choose Land.

भूमि की परीक्षा चार प्रकार से करने को कहा गया है। अमुक भूमि शुभ है, या अशुभ, इसकी परीक्षा करने के लिए, गृहकत्र्ता के हाथ से, गृह के मध्य से, एक हाथ चैड़ा और एक हाथ गहरा गड्ढ़ा खुदवायें। फिर उस गड्ढे को उसी मिट्टी से भरें। यदि गड्ढा भरने में मिट्टी कम हो जाए, तो अशुभ, ठीक-ठाक हो... Read More

वास्तु के अनुसार भूखंड का आकृतिमूलक वर्गीकरण | Vastu Shastra: Classification of land Akritimulk.

चमचैरस शुभ धनदायक एवं पुष्टिवर्धक चमसाकार चैड़ा समकोण धनदायक एवं पुष्टिवर्धक चमसाकार लंबा समकोण धनदायक, पुष्टिवर्धक एवं शुभ वर्तुल शुभ भूखंड का आकृतिमूलक... Read More

भूखंड के न्यूनाधिक चतुष्कोणों का फल | Vastu Shastra: Result of the modulator Bhukhand Ctushkonon.

वायव्य कोण में बढ़ा हुआ भूखंड अशुभ होता है। ईशान्य कोण में घटा हुआ भूखंड अशुभ होता है। ईशान्य कोण में बढ़ा हुआ भूखंड शुभ होता है। आग्नेय... Read More

वर्णानुसार भूमि परीक्षा | रूप (वर्ण) के आधार पर भूमि का चयन किस प्रकार करें? | How to select any land on the basis of Colour in Vastu.

रूप (वर्ण) के आधार पर भूमि का चयन किस प्रकार करें? श्वेत मृत्तिका (मिट्टी) की भूमि ब्राह्मणी, रक्त वर्ण की क्षत्रिया, हरित वर्ण पीली वैश्या और कृष्ण वर्ण की भूमि शूद्रा कही जाती है... Read More

भूमि परीक्षा की दूसरी विधि | The second ground test method.

पूर्वकथित प्रकार से गड्ढ़े को खोदें। बाद में उसमें जल भर कर, वहां से सौ पद तक जाकर वापस लौट आएं। इतने समय में गड्ढे का जल ज्यों का त्यों बना रहे, तो शुभ होता है।... Read More

पानी के बहाव और भूपृष्ठ से भूमि की परीक्षा | Soil Test From The Flow Of Water and Earth Surface.

परीक्षा योग्य भूमि पर खूब जल गिराएं। यदि पानी उत्तराभिमुख बहे, तो वह भूमि ब्राह्मणो के लिए उत्तम होती है। पूर्वाभिमुख जल के बहाव वाली भूमि क्षत्रियों के लिए उत्तम, दक्षिण ... Read More

शौचालय संस्कृति का जोर | The emphasis of toilet culture. | Vastu Advice for Toilet.

आजकल 'टॉयलेट' संस्कृति का प्रचलन बढ़ गया है। प्रत्येक व्यक्ति अपने घर के शौचालय (Toilet) पर ज्यादा से ज्यादा रुपया खर्च कर रहा है। किसी भी आधुनिक इमारत को देखें, तो उसमें सबसे सुंदर उस घर का शौचालय ही होगा. इतना ही नहीं, आजकल घरों में शयन कक्ष से लगे... Read More

Tags: A Brief Introduction To Vastu Shastra, Vedic Vaastu Shastra India, Introduction of Vastu Shastra, What is Vastu Shastra?, Home Vastu Shastra In Hindi‎, vastu shastra tips, vastu tips online, vastu shastra, vastu shastra popular articles, vastu for home, special vastu tips, वास्तु शास्त्र, vastu shastra in hindi, Vastu shastra tips for Home, Vastu Tips & Artciles

A Smart Gateway to India…You’ll love it!

Recommend This Website To Your Friend

Your Name:  
Friend Name:  
Your Email ID:  
Friend Email ID:  
Your Message(Optional):